newz fast

Mokshada Ekadashi 2023: 22 या 23 दिसंबर में से इस दिन रखा जाएगा मोक्षदा एकादशी का व्रत, यहां जानिये मंत्र और उपाय

Mokshada Ekadashi 2023 Date: हिंदू धर्म में मोक्षदा और एकादशी को काफी खास माना जाता है। आज हम आपको इसके उपाय और मंत्र के बारे में बताने वाले हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में...
 | 
22 या 23 दिसंबर में से इस दिन रखा जाएगा मोक्षदा एकादशी का व्रत

Newz Fast, New Delhi Mokshada Ekadashi 2023: हिंदू धर्म में एकादशी तिथि का विशेष महत्व माना जाता है, मान्यता है कि इस दिन विधि विधान से भगवान विष्णु की पूजा करने से सभी प्रकार की परेशानियां दूर होती हैं. मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को मोक्षदा एकादशी के नाम से जाना जाता है, इस दिन व्रत और पूजन से मोक्ष की प्राप्ति होती है. जानते हैं इस साल मोक्षदा एकादशी का व्रत कब रखा जाएगा. 

मोक्षदा एकादशी 2023 Date (Mokshada Ekadashi 2023 Date)

मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि 22 दिसंबर को सुबह 8 बजकर 16 मिनट से शुरू होगी और इस तिथि का समापन अगले दिन 23 दिसंबर की सुबह 7 बजकर 11 मिनट पर होगा. मोक्षदा एकादशी का व्रत 22 दिसंबर को रखा जाएगा. 

मोक्षदा एकादशी पूजा विधि

मोक्षदा एकादशी के दिन सुबह उठकर स्नान करें और फिर भगवान विष्णु की प्रतिमा के सामने व्रत का संकल्प करें. इसके बाद पूजा घर की साफ-सफाई करके एक चौकी पर पीला कपड़ा बिछाएं और उसमें भगवान विष्णु की प्रतिमा रखें. 

साथ ही लाल कपड़े में लपटेकर गीता की नई प्रति भी रखें. इसके बाद भगवान विष्णु क चंदन, अक्षत, पीले फूल, धूप-दीप और प्रसाद अर्पित करें. गीता का सम्पूर्ण पाठ या अध्याय 11 का पाठ करें और भगवान विष्णु के मंत्रों का जाप करें. आरती के बाद अपनी इच्छा भगवान के सामने रखें और फिर घर-परिवार के सभी सदस्यों को प्रसाद वितरित करें.