newz fast

Cash Limit:घर में कैश रखने की नई लिमिट हुई जारी, जानें सरकार ने नए नियम

Cash Limit At Home:बहुत से लोग अपने घर में जरुरत से ज्यादा कैश रख लेते है इसी के चलते सरकार ने नए नियम बना दिए है। अब यदि आपके घर में इस लिमिट से ज्यादा कैश मिलता है तो आपके ऊपर भारी जुर्माना लगाया जाएगा। आइए नीचे खबर में जानते है सरकार के नए नियम...

 | 
 घर में कैश रखने की नई लिमिट हुई जारी, जानें सरकार ने नए नियम  

Newz Fast, New Delhi: कोरोना काल यानि 2020 के बाद से डिजिटल लेन-देन (digital transactions) का चलन काफी बढ़ गया है।

अब लोग ज्यादातर ट्रांजेक्शन यूपीआई और डेबिट-क्रेडिट कार्ड (UPI and Debit-Credit Cards) के जरिए ही कर रहे हैं। लेकिन अभी भी लोग कैश में ट्रांजेक्शन करना ज्यादा पसंद करते हैं।

इसके लिए लोग एटीएम से एक बार में ही ज्यादा कैश निकालकर ले आते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि घर में अधिकतम कितना कैश (Cash Limit at Home) रखा जा सकता है।

नियमों की जानकारी नहीं होने पर आपको जुर्माना देना पड़ सकता है। घर में कैश रखने का इनकम टैक्स का नियम क्या है। आइए आपको बताते हैं।

घर में इतना रखा जा सकता हैं कैश

इनकम टैक्स (Income Tax) के नियम के मुताबिक, आप घर में जितना चाहे उतना कैश रख सकते हैं। लेकिन अगर आपके घर में रखी नकदी को कभी जांच एजेंसी पकड़ लेती है.

तो आपको इस कैश का सोर्स बताना होगा। अगर आपने पैसा गलत तरीके से नहीं कमाया है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। आपके पास इसके लिए पूरे डॉक्यूमेंट्स होने चाहिए। वहीं आपने टैक्स रिटर्न (tax return) भरा है तो घबराने की जरूरत नहीं है।

लगाया जा सकता है टैक्स

अगर आप घर में रखे कैश के बारे में सोर्स (Source about cash kept at home) नहीं बता पाते हैं तो जांच एजेंसी आपके ऊपर कार्रवाई करेगी। आपकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

बता दें कि नोटबंदी (demonetization) के बाद इनकम टैक्स की ओर से कहा गया कि अगर आपके पास अनडिस्क्लोज कैश मिलता है तो जितना कैश आपके पास से बरामद होगा उस अमाउंट का 137 फीसदी तक टैक्स लगाया जा सकता है।

एक साल की अवधि में कितना निकाल सकते हैं कैश

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स (Central Board of Direct Taxes) के मुताबिक, अगर कोई एक बार में 50 हजार से ज्यादा कैश निकालता है तो उसे अपना पैन कार्ड दिखाना होगा।

वहीं एक साल में 20 लाख से ज्यादा कैश जमा या निकाला जा सकता है। दो लाख से ज्यादा का कैश पेमेंट करने पर पैन और आधार कार्ड दिखाना होगा।