newz fast

Chanakya Niti: पत्‍नी को भी नहीं बतानी चाहिए ये तीन बातें, वरना नरक बन सकती है शादीशुदा जिंदगी

Chanakya Niti : आचार्य चाणक्य दुनिया के सबसे महान व्यक्ति है चाणक्य ने पति-पत्नी के रिश्ते को लेकर कई खास बातों का जिक्र किया है. जिसके मुताबिक पति को कभी भी अपने पत्नी के सामने इन बातों का जिक्र नहीं करना चाहिए चलिए जानते हैं...
 | 
पत्‍नी को भी नहीं बतानी चाहिए ये तीन बातें

Newz Fast, New Delhi : सुखी वैवाहिक जीवन के लिए कुछ सूत्रों का पालन करना चाहिए. महान कूटनीतिज्ञ और मार्गदर्शक आचार्य चाणक्‍य ने अपने नीति शास्‍त्र चाणक्‍य नीति में सुखी वैवाहिक जीवन के सूत्र बताए गए हैं.

इसके लिए चाणक्‍य नीति में पति-पत्‍नी के लिए कुछ जरूरी बातें बताई गई हैं. चाणक्‍य नीति कहती है कि पति को कुछ बातें अपनी पत्‍नी से छिपाना चाहिए.

ये बातें पत्‍नी को बताने से वैवाहिक जीवन तबाह हो सकता है. लिहाजा आचार्य चाणक्‍य कहते हैं कुछ बातें पत्‍नी से गुप्‍त रखने में ही भलाई है. 

 पत्‍नी को ना बताएं ये बातें 

कमजोरी: पति को अपनी पत्‍नी को अपनी कमजोरी के बारे में नहीं बताना चाहिए. पुरुषों के लिए यही बेहतर है कि वे अपनी कमजोरी छिपाकर रखें,

वरना उनके जीवन में कष्‍टों की एंट्री होने से कोई नहीं रोक सकता है. वहीं पत्‍नी को पति की कमजोरी पता चल जाए तो वह उसका वैसा सम्‍मान नहीं करेगी, जैसा करना चाहिए. 

अपमान: आमतौर पर हर किसी के जीवन में अपमान का कोई ना कोई क्षण आ ही जाता है. बेहतर है कि ऐसे अपमान की बात किसी को ना बताएं.

वैसे तो अपमान का जिक्र किसी से भी ना करें, साथ ही पत्‍नी को भी ना बताएं. पत्‍नी कभी अपने पति का अपमान सहन नहीं कर सकती है, ऐसे में उससे इस बात का जिक्र करना शादीशुदा जीवन को कष्‍टदायी बना सकता है. 

कमाई: पति को अपनी असली इनकम अपनी पत्‍नी को नहीं बताना चाहिए, बल्कि उससे थोड़ी कम बतानी चाहिए, ताकि पत्‍नी फिजूलखर्ची ना करे.

वहीं पति को यह रकम भविष्‍य के लिए बचाकर रखनी चाहिए, ताकि आपातकालीन स्थिति में भी वह अपना और परिवार का गुजारा कर सके. 

दान: दान का महत्‍व तभी है, जब उसे गुप्‍त रखा जाए. पति या पत्‍नी जो भी दान करें, उसका जिक्र उन्‍हें एक-दूसरे से भी नहीं करना चाहिए. या फिर दोनों को साथ मिलकर दान करना चाहिए.