newz fast

Haryana News: हरियाणा वालों को अगर हुआ खांसी जुकाम तो सरकार करवाएगी ये टेस्ट

Haryana News: हाल ही मे मौसम के वायरल के इफैंक्शन के चलते रखना होगा ये खास बातों का ध्यान। स्वास्थय विभाग ने दिए मास्क पहनने के निर्देश। जानते है किन लोगों को रखनी होगी अधिक सावधानी। अगर हो रहा है तेज बुखार तो जरुर करवाए ये टेस्ट... 
 | 
Haryana News: हरियाणा वालों को अगर हुआ खांसी जुकाम तो सरकार करवाएगी ये टेस्ट
 


NewzFast India,New Delhi:हरियाणा के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा भविष्य में आईएलआई और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (एसएआरआई) के केसों का आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाएगा।

श्री विज आज देश के कुछ राज्यों में हाल ही में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि और देश में कोविड-19 के जेएन.1 वेरिएंट के पहले मामले का पता चलने के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री डा. मनसुख मांडविया तथा अन्य राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों एवं सचिवों के साथ सुरक्षा उपायों पर आयोजित वीडियो कांफ्रेंस में बोल रहे थे।

उन्होंने आज सुझाव देते हुए कहा कि आईएलआई लक्षण और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (एसएआरआई) केसों में आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी होने चाहिए और कोविड-19 को नोटिफाई बीमारी घोषित करना चाहिए ताकि निजी अस्पतालों में कोई केस आए तो वह सीएमओ व सरकारी अस्पतालों को जानकारियां दें।

उन्होंने कहा कि इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारी (आईएलआई) और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (एसएआरआई) मामलों की निगरानी और रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है, 

ताकि ऐसे मामलों की शुरुआती बढ़ती प्रवृत्ति का पता लगाया जा सके। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने मॉकड्रिल की है और इस मामले में पूरी तैयारी है। 

हरियाणा में 238 पीएसए प्लांट चालू हालत में है। उन्होंने कहा कि उक्त बीमारी से लड़ने के लिए प्रदेश सरकार ने सबंधित विभाग को अलर्ट कर दिया है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज ने कहा कि आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री एवं प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग हुई है,

जिसमे  आईएलआई लक्षण और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (एसएआरआई) बारे गाइडलाइन पर चर्चा हुई है , इसके बाद राज्य स्तर की मीटिंग की गई है और जिसमें उपकरणों को जांचा गया है।