newz fast

LPG सिलेंडर पर मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, करोड़ों लोगों को मिलेगी बड़ी राहत

देश में लोकसभा चुनाव को लेकर सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी है. उससे पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम आदमी को बड़ा तोहफा दे दिया है. दरअसल एलपीजी सिलेंडरों की कीमतों में ₹100 कटौती करने की घोषणा की है चलिए जानते हैं खबर को विस्तार से...
 | 
LPG सिलेंडर पर मोदी सरकार का बड़ा ऐलान

Newz Fast, New Delhi : आम चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है। इससे पहले नरेंद्र मोदी सरकार ने LPG सिलेंडर पर 2 बड़े फैसले लिए हैं। इस फैसले की वजह से 9 करोड़ से ज्यादा लोगों को एक साल तक घरेलू LPG सिलेंडर पर 400 रुपये तक की छूट मिलेगी। आइए इस छूट का गणित समझ लेते हैं। 

क्या है ऐलान

मोदी सरकार ने LPG सिलेंडर की कीमत 100 रुपये घटाने की घोषणा की है। इससे एक दिन पहले प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के लाभार्थियों की 300 रुपये की सब्सिडी को एक साल तक बढ़ाने का ऐलान किया गया था।

लाभार्थियों को अब यह सब्सिडी 31 मार्च 2025 तक मिलती रहेगी। आपको बता दें कि उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 300 रुपये प्रति सिलेंडर सब्सिडी मिलती है। इस सब्सिडी की वजह से लाभार्थियों को एक सामान्य ग्राहक के मुकाबले 300 रुपये सस्ता सिलेंडर मिलता है। 

503 रुपये में सिलेंडर

चूंकि अब मोदी सरकार की 100 रुपये की कटौती सभी ग्राहकों पर लागू होगा तो इसमें उज्जवला के लाभार्थी भी शामिल होंगे। ऐसे में देश की राजधानी दिल्ली में सामान्य ग्राहकों को सिलेंडर केवल 803 रुपये में मिलेगा। वहीं, उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को अब एलपीजी सिलेंडर केवल 503 रुपये में मिलेगा।

बता दें कि अब तक देश की राजधानी दिल्ली में सामान्य ग्राहक 903 रुपये में और उज्जवला लाभार्थी 603 रुपय में एलपीजी सिलेंडर खरीद रहे थे।

एक सामान्य ग्राहक को अब तक जिस कीमत पर एलपीजी सिलेंडर मिल रहा था, उस लिहाज से नए फैसले के लागू होने के साथ उज्जवला लाभार्थियों को कुल 400 रुपये की राहत मिलेगी।

छह महीने में दूसरी बार कटौती

बता दें कि पिछले छह महीने में दूसरी बार रसोई गैस की कीमतों में कमी हुई है। इससे पहले मध्य प्रदेश और राजस्थान सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों से पहले अगस्त के अंत में एलपीजी में 200 रुपये प्रति सिलेंडर की कटौती की गई थी। अक्टूबर 2023 में उज्जवला लाभार्थियों की सब्सिडी भी 200 रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये कर दी गई थी।