newz fast

Mukesh Ambani:- ये है Mukesh Ambani का फेवरेट रेस्टोरेंट, बहुत सस्ते में मिलता है खाना

Mukesh Ambani:-  मुकेश अबांनी साधारण चीजों के काफी दीवाने है। साउथ इड़िया का एक सामान्य रेस्टोरेंट कैफे मैसूर का इडली साभंर उन्हें काफी पसंद है। यह रेस्टोरेंट तकरीबन 83 साल पुराना है। जहां से वो हर हफ्ते खाना आर्डर कर मंगवाते है। वे विशेष रुप से चटपटे और स्वादिष्ट भोजन खाना पसंद है। इडली सांभर के अलावा मुकेश अबांनी को यहां का डोसा भी अच्‍छा लगता है। आईये जाने नीचे खबर में...
 | 
ये है Mukesh Ambani का फेवरेट रेस्टोरेंट
NewzFast, New Delhi:- एशिया के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी चाहे खाने-पीने के शौकीन है. हाल ही में जब वो अपने बेटे अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट की प्री वेडिंग के लिए पहुंचे थे तो खाने को लेकर उनका प्यार सबसे सामने आ गया था.

मुकेश अंबानी का फेवरेट खाना -

हाल ही में जब वो अपने बेटे अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट की प्री वेडिंग के लिए पहुंचे थे तो खाने को लेकर उनका प्यार सबसे सामने आ गया था. मुकेश अंबानी मजे से गरमा-गरम मिर्च के पकौड़े का आनंद लेते हुए कैमरे में कैद हो गए. 
स्वाद के शौकीन मुकेश अंबानी को चटपटा खाना खूब पसंद है. गुजराती परिवार के आने वाले मुकेश अंबानी को साउथ इंडियन खाना भी खूब पसंद है. 88 साल पुराना साउथ इंडियन रेस्टोरेंट उनका फेवरेट प्लेस है, जहां से वो हर हफ्ते खाना आर्डर कर मंगवाता है. सिर्फ मुकेश अंबानी ही नहीं बल्कि उनके बच्चे भी इस रेस्टोरेंट के स्वाद के दीवाने है. खुद मुकेश अंबानी ने एक इंटरव्यू में इस रेस्टोरेंट के बारे में बात की.

मुकेश अंबानी देश के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक हैं. हालांकि आम लोगों की तरह मुकेश अंबानी को भी रेस्टोरेंट का खाना पसंद है.साउथ मुंबई का एक सामान्य रेस्टोरेंट कैफ मैसूर का इडली सांभर काफी पसंद है.यह रेस्टोरेंट ँ 83 साल पुराना हैकैफे मैसूर माटुंगा के पुराने रेस्टोरेंट में से एक है

88 साल पुराने रेस्टोरेंट के स्वाद के शौकीन है अंबानी-

मुंबई का मशहूर कैफे मैसूर माटुंगा मुकेश अंबानी का पसंदीदा रेस्टोरेंट है, जहां से लगभग हर हफ्ते ऑर्डर कर खाना मंगवाते हैं. कैफे मैसूर के साथ उनका ये रिश्ता कॉलेज के दिनों का ही है. वे अपने कॉलेज के दिनों में वो इस रेस्टोरेंट में अपने दोस्तों, फैमिली के साथ आया करते थे. उन्हें यहां का स्वाद इतना पसंद आया कि वो आज भी इसके खाने के दीवाने हैं.  शुद्ध शाकाहारी कैफे समूर की शुरुआत 1936 में हुई थी.

कैसे हुई कैफे मैसूर की शुरुआत-

मुंबई का कैफे मैसूर माटुंगा के सबसे पुराने रेस्टोरेंट में से एक है. इस कैफे की शुरुआत साल 1936 में हुई थी. चौथी फेल ए रामा नायक ने इस कैफे सी नींव रखी. रामा ने चौथी क्लास में ही पढ़ाई छोड़ दी और किंग्स सर्कल रेलवे स्टेशन के पास केले के पत्तों पर इडली और डोसा बनाने और बेचने लगे.  लोगों को उनके इडली-डोसा का स्वाद पसंद आने लगा. उनकी छोटी सी दुकान के सामने लंबी-लंबी कतारें लगती थी. लोकप्रियता बढ़ी, तो उन्होंने माटुंगा में अपना पहला दक्षिण भारतीय रेस्टोरेंट खोला. इसके बाद तीन और रेस्टोरेंट खोले और उन्हें अपने चारों बच्चों को सौंप दिया. उडुपी कृष्णा भवन, कैफे मैसूर, उडुपी कैफे और अब इडली हाउस को उन्होंने ब्रांड बना दिया. आज भी दक्षिण भारतीय खाने के लिए इन रेस्टोरेंट के बाहर लाइन लगती है.

 

मुकेश अंबानी को कैफे मैसूर का इडली-सांभर सबसे ज्यादा पसंद है. वो अक्सर यहां से ऑर्डर कर मंगवाते हैं. कैफे ने अपने सोशल मीडिया पेज पर भी मपकेश अंबानी की तस्वीरें और वीडियो लगाई है. जिसमें वो कैफे मैसूर के बारे में बात कर रहे हैं.  इडली सांभर के अलावा उन्हें यहां का डोसा भी पसंद है. 

सिर्फ 50 रुपये में पेटभर खाना-मुकेश अंबानी यहां के इडली सांभर के दीवाने हैं. जिसके एक प्लेट की कीमत सिर्फ 50 रुपए है. सिर्फ मुकेश अंबानी ही नहीं बल्कि कई बॉलीवुड, राजनीतिक, खेल जगत से जुड़े लोग इस रेस्टोरेंट के स्वाद के दीवाने है. राज कपूर परिवार को भी यहां का खाना काफी पसंद था.  कैफे के मेन्यू में डोसा के 80 से ज्यादा वैरिइटी है.