newz fast

UP News: इस स्कीम के तहत अब फ्री में पढ़ेगी बेटिया, योगी सरकार उठाएगी पूरा खर्चा

yogi sarkar: आज के समय में बच्चों को पढ़ाना बेहद मुश्किल हो रहा है। हाल ही में योगी सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया है जिसमें कहा है कि अब फ्री में बेटियां पढ़ सकती है। योगी सरकार उनकी पढ़ाई का पूरा खर्चा उठाएंगी। आइए नीचे खबर में जानते है इस योजना के बारे में विस्तार से...   

 | 
इस स्कीम के तहत अब फ्री में पढ़ेगी बेटिया

Newz Fast, New Delhi: UP मे सरकार द्वारा बहुत सारी स्कीम चलाई जाती है जिसका फायदा राज्य के करोड़ों लोग उठाते हैं | ऐसे ही उत्तर प्रदेश सरकार (yogi aadityanath) ने बच्चियों और महिलाओं के लिए कई योजनाएं चलाई हुई हैं जिनका लाभ महिलाएं ले सकती हैं.

सरकार (yogi aadityanath) द्वारा ऐसी ही एक योजना है कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangala Yojana) जिसे शुरू तो 2019 में किया गया था लेकिन हाल ही में इसमें एक और अपडेट किया गया है.

बेटियों को छह चरणों में जहां पहले पंद्रह हजार रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती थी अब यह अमाउंट बढ़ा दिया गया है. मदद की यह राशि बढ़ाकर पच्चीस हजार रुपये कर दी गई है.

Yogi sarkaar ने यह योजना 1 अप्रैल 2019 से शुरू की थी. इस योजना का फायदा लेने के लिए ऑनलाइन अप्लाई करना होता है और इस योजना से सरकार लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देना चाहती है और इसीलिए छह चरणों में धनराशि की डिस्ट्रीब्यूशन करती है.

इसकी प्रक्रिया के तहत तयशुदा सहायता राशि सीधा लड़कियों के बैंक खाते में जमा की जाती है. राशि छह चरणों यानी छह किश्तों में दी जाती है. महिलाओं और पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी ऐसी ही अधिक जानकारी के लिए आप यहां क्लिक कर सकती हैं.

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना (Chief Minister Kanya Sumangala Yojana) के क्रियान्वयन के स्तर बारे में सरकार की वेबसाइट बताती है कि नवजात बालिकाओं जिनका जन्म 01/04/2019 या उसके बाद हुआ हो, उनको 2000 रुपये एक मुश्त धनराशि से दी जाएगी.

जब बच्ची का एक वर्ष के भीतर सम्पूर्ण टीकाकरण हो चुका होगा तो 1000 रुपये दिए जाएंगे. इस चरण के लिए बच्ची का जन्म 01/04/2018 से पहले न हुआ हो. तीसरे चरण में वे बच्चियां लाभान्वित होंगी पहली क्लास में ए़डमिशन दिलवा दिया गया हो. इन्हें 2000 रुपये दिए जाएंगे

चौथे चरण में उन लड़कियों को मदद की राशि दी जाएगी जिन्होंने छठी क्लास में प्रवेश लिया हो. इन्हें भी 2000 रुपये दिए जाएंगे. पांचवें चरण में उन लड़कियों को 3 हजार रुपये की धनराशि दी जाएगी जिन्होंने नौंवी क्लास में प्रवेश कियो हो.

छठे चरण में दसवीं और बारहवीं क्लास को पास करके ग्रेजुएशन कर रहीं या फिर कोई और डिग्री ले रहीं या किसी न किसी कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में एडमिशन लेने वाली बच्चियों को ये राशि दी जाएगी, ये राशि पांच हजार रुपये की होगी.

होने चाहिए ये डॉक्यूमेंट

सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए परिवार के पास उत्तर प्रदेश (up big news) का परमानेंट एड्रेस सबूत होना चाहिए. राशन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आईडी, बिजली या फोन का बिल मान्य होगा.

उन्हीं परिवारों को बच्चियों के लिए ये सहायता दी जाएगी जिनकी सालाना आय 3 लाख तक या से कम हो. ज्याचदा से ज्यादा दो ही बच्चियां होंगी, तभी परिवार को यह मदद मिलेगी.

साथ ही परिवार में 2 ही बच्चे हों, ये भी अहिर्ता है. जुड़वा बेटियां हुईं तो तीसरी बेटी को भी ये लाभ मिलेगा. गोद ली हो बच्ची तो भी वह लाभ की पात्र हो सकती है.