newz fast

Business Idea: छोटे प्लांट लगाकर शुरु करें ये बिजनेस, भर देगा आपका खजाना

Napkin Paper Production: आप भी कोई बिजनेस करना चाहते है तो आज हम आपके लिए एक ऐसा बिजनेस लेकर आए है जिससे आप अपना खजाना भर सकते है। इस बिजनेस को आप छोटे प्लांट लगाकर शुरु कर सकते है। तो आइए नीचे खबर में जानते है इस बिजनेस को शुरु करने में कितना खर्चा लगेगा। 
 | 
छोटे प्लांट लगाकर शुरु करें ये बिजनेस, भर देगा आपका खजाना  

NewzFast India, New Delhi: इन दिनों बड़ी संख्या में लोग खुद का बिजनेस शुरू करने की तरफ बढ़ रहा हैं। छोटे कारोबार (Small Business) को शुरू करने के लिए सरकार की ओर से मदद की जा रही है। 

लोग एक से बढ़कर बिजनेस आइडिया (Business Idea) अपनाकर बढ़िया मुनाफा कमा रहे हैं। अगर आप भी अपना बिजनेस शुरू करने का प्लान बना रहे हैं, तो पेपर नैपकिन की मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट (Napkin Paper Manufacturing) लगाकर बढ़िया कमाई कर सकते हैं। नैपकिन ऐसी चीज है, जिसका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर पूरी दुनिया में होता है। 

देश के बड़े रोस्टोरेंट से लेकर स्ट्रीड फूड वाली दुकान पर भी इसकी बड़ी मात्रा में खपत है। इस वजह से नैपकिन मैन्युफैक्चरिंग के कारोबार में अधिक संभावनाएं हैं।

टिश्यू पेपर की है बड़ी खपत

इन दिनों टिश्यू पेपर का इस्तेमाल (use tissue paper) बढ़ा है। रेस्टोरेंट और ढाबे का विस्तार अब कस्बों तक होने लगा हैं और टिश्यू पेपर की बड़ी खपत यहीं होती हैं। ऐसे में जितने  रेस्टोरेंट और ढाबे खुलेंगे, टिश्यू पेपर की मांग उतनी ही बढ़ती जाएगी। इस वजह से आप इसे बनाने के कारोबार को शुरू करके बढ़िया कमाई कर सकते हैं। 

बढ़ती पेपर नैपकिन की खपत के कारण इसका प्लांट लगाना आपके लिए मुनाफे का सौदा साबित हो सकता है। आप इसका प्रोडक्शन कर अपने आस-पास के मार्केट में इसकी सप्लाई कर बढ़िया मुनाफा कमा सकते हैं।

कितना आएगा खर्च?

सप्लायर्स के अनुसार, नैपकिन पेपर बनाने की मशीन (Napkin Paper Machine) 5 लाख रुपये से मिलने लग जाती है। अगर आप सेमी-ऑटोमैटिक मशीन खरीदते हैं 

तो यह आपको 5-6 लाख रुपये में मिल जाएगा। चार से पांच इंच वाले नैपकिन पेपर्स बनाने की इनकी क्षमता हर घंटे 100 से 500 पीस की होती है। अगर आप बड़े स्केल पर बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो अधिक कैपेसिटी वाली पूरी तरह से ऑटोमैटिक मशीन 10-11 लाख रुपये में आएगी। ये हर घंटे 2,500 रॉल बनाने की क्षमता रखती है।

छोटे प्लांट लगाकर भी कर सकते हैं शुरुआत 

आप छोटे प्लांट से भी नैपकिन बनाने के काम की शुरुआत कर सकते हैं। छोटे प्लांट से आसानी से एक साल में 1।50 लाख किलोग्राम तक नैपकिन पेपर का प्रोडक्शन (Napkin Paper Production) किया जा सकता है। 

इस तरह देखें तो आप साल भर में बड़े आराम से करीब 1 करोड़ रुपये का टर्नओवर (Turnover) हासिल कर सकते हैं। रॉ मटीरियल्स, मशीन की लागत और लोन की किश्तों को निकाल भी दें तो पहले साल में ही इस बिजनेस से 10-12 लाख रुपये की बचत की जा सकती है।

मिल सकता लोन

अगर आप इस बिजनेस के लिए खुद से 3।50 लाख रुपये जुटा लेते हैं, तो आपको सरकार की मुद्रा योजना (Mudra Scheme) के तहत लोन भी मिल सकता है। 

इतना पैसा जुटाने के बाद आप मुद्रा योजना में लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इस कारोबार को शुरू करने के लिए आपको 3।10 लाख रुपये का टर्म लोन और 5।30 लाख रुपये का वर्किंग कैपिटल लोन (Working Capital Loan) मिल सकता है। 

इस तरह आप अपने बिजनेस को आसानी से शुरू कर सकते हैं। देश के युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करने के लिए केंद्र सरकार प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PM Mudra Yojana) चला रही है। इस स्कीम से तहत ग्रामीण इलाकों में गैर-कॉर्पोरेट छोटे उद्यमों को शुरू करने या उसके विस्तार के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन (Mudra Yojana Loan) दिया जा रहा है।