newz fast

Success Story: 9 बार फेल होने के बाद भी नहीं माननी हार, कबाड़ खरीदकर आज खड़ी कर दी करोड़ों की कंपनी

Success Story: जब भी हम किसी चीज को हासिल करन की ठान लेते है तो कोई भी ताकत आपको उस हासिल करने से नही रोक सकती है, ऐसे ही एक शख्स की कहानी आज हम आपको बताने जा रहे है जिन्होने बिजनेस में 9 बार फेल होने के बाद भी हार नही मानी और आज खड़ी कर दी 1.5 लाख करोड़ की कंपनी, आइए खबर में जानते है इस शख्स के बारे में विस्तार से।

 | 
Success Story: 9 बार फेल होने के बाद भी नहीं माननी हार, कबाड़ खरीदकर आज खड़ी कर दी करोड़ों की कंपनी   

NewzFast India, New Delhi: एक सफल बिजनेसमैन की कहानी हमेशा लोगों को प्रेरणा देती है. सफलता का यह सफर जितना ज्‍यादा मुश्किल होता है, कहानी उतनी ही प्रेरक भी लगती है. ऐसा ही एक नाम है भारतीय उद्योग में भी, जिसकी सफलता का सफर आसान नहीं रहा.

एक-दो नहीं पूरे 9 बार बिजनेस में फेल हुए. तनाव इतना बढ़ा कि उन्‍हें अवसाद भी झेलना पड़ा, लेकिन हार नहीं मानी. आज वह 1.5 लाख करोड़ रुपये की कंपनी संभाल रहे हैं. इतना ही नहीं, उन्‍हें इंग्‍लैंड की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में बिजनेस स्‍टूडेंट को संबोधित करने के लिए भी बुलाया गया.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं वेदांता रिसोर्सेज लिमिटेड (Vedanta Resources Limited) के चेयरमैन अनिल अग्रवाल (Anil Agarwal) की. उन्‍हें हाल में ही कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में स्‍टूडेंट को ‘सपनों का पीछा कैसे करें’ विषय पर संबोधित करने के लिए बुलाया गया था.

पटना के एक मारवाड़ी परिवार में पैदा हुए अनिल अग्रवाल का शुरू से ही अपने बिजनेस को बड़ा बनाने का सपना था. 19 साल की उम्र में उन्‍होंने अपने पिता का बिजनेस छोड़ मुंबई का रुख किया और अपने लिए नए अवसर तलाशने में जुट गए.

शुरू किया ‘कबाड़ी’ का काम

आज माइनिंग टाइकून के रूप में दुनियाभर में नाम कमा चुके अनिल अग्रवाल ने साल 1970 में कबाड़ खरीदना (स्‍क्रैप डीलर) शुरू किया था. उन्‍होंने कैंब्रिज में स्‍टूडेंट को बताया कि 20 से 30 साल की उम्र में मैंने काफी संघर्ष किया.

इस दौरान 9 बार अपने बिजनेस में फेल हुआ और तब मुझे पहली सफलता मिली. इसके बाद मैंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और अपने लिए नए-नए रास्‍ते बनाते गए. 

टि्वटर पर शेयर किया अनुभव

अनिल अग्रवाल ने अपने टि्वटर हैंडल पर बिजनेस के दौरान हुए अनुभवों को शेयर किया है. उन्‍होंने लिखा- ‘एक ऐसा व्‍यक्ति जो कभी कॉलेज नहीं गया, उसे कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से स्‍टूडेंट को संबोधित करने के लिए बुलाया गया. जहां बताया कि सपनों के लिए कुछ भी असंभव नहीं होता.’

आज हैं हजारों करोड़ के मालिक

अनिल अग्रवाल को सोशल मीडिया पर फॉलो करने वालों की भी कमी नहीं है. उनके मोटिवेशनल पोस्‍ट को लोग काफी पसंद करते हैं. टि्वटर पर उनके करीब 1.63 लाख फॉलोअर्स हैं.

फोर्ब्‍स के अनुसार, उनकी नेट वर्थ 16 हजार करोड़ रुपये है. अगर उनके परिवार की कुल नेट वर्थ देखी जाए तो यह 32 हजार करोड़ रुपये बैठती है. मौजूदा समय में उनका वेदांता ग्रुप 1,48,729 करोड़ रुपये पहुंच गया है.